शंखनाद इंडिया/आशा बृजेश तिवारी/ अल्मोड़ा -: धरोहर बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले कलक्ट्रेट में धरना देने पहुंचे पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी और उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जिसके बाद से कार्यकर्ताओं में प्रशासन के खिलाफ गुस्सा व्याप्त है।

दरअसल कलक्ट्रेट में चल रहे निर्माण कार्य के विरोध में धरोहर बचाओ संघर्ष समिति ने सात जनवरी से धरने का ऐलान किया था। दोपहर बारह बजे के आसपास पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी और उपपा के केंद्रीय अध्यक्ष इस धरने में शामिल होने पहुंचे तो अधिकारियों ने उन्हें रोकने की काफी कोशिश की।

लेकिन संघर्ष समिति के सदस्य अपनी मांग पर अड़े रहे। काफी देर तक कलक्ट्रेट में हो हल्ला होने के बाद आखिर में पुलिस ने पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी, उपपा के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी, सीटू के जिलाध्यक्ष दिनेश पांडे, गोपाल, आंनदी वर्मा, किरन आर्या, राधा नेगी, स्वप्निल पांडे, राजू गिरि समेत 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया और उन्हें खगमरा स्थित पुलिस लाइन ले गए।

*जिला प्रशासन की कार्रवाई पर भड़के कांग्रेसी, जलाया पुतला

कलक्ट्रेट में मल्ला महल को लेकर धरना देने पहुंचे प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में आक्रोश व्याप्त है। कार्यकर्ताओं ने प्रशासन की इस कार्रवाई के खिलाफ चौघानपाटा में जिला प्रशासन का पुतला फूंका और एसएसपी कार्यालय का घेराव भी किया। प्रदर्शन कारियों को रिहा न करने पर कार्यकर्ताओं ने उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

चौघानपाटा में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि अपनी मांग को लेकर धरना देने पहुंचे प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर प्रशासन ने अपनी दमनकारी नीति का चेहरा उजागर किया है। जिसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कार्यकर्ताओं ने कहा कि जिला प्रशासन ने नगर के प्रथम व्यक्ति समेत अन्य नेताओं को गिरफ्तार कर लोगों की आवाज को दबाने और अपनी हिटलरशाही दिखाने का काम किया है।

पुतला दहन और नारेबाजी के बाद कार्यकर्ता एसएसपी कार्यालय पहुंचे और गिरफ्तार लोगों की रिहाई को लेकर यहां धरना दिया। कार्यकर्ताओं ने साफ किया कि अगर प्रशासन ने अपनी कार्यप्रणाली नहीं बदली ता उग्र आंदोलन शुरू कर दिया जाएगा।

पुतला दहन कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष लता तिवारी, तारा चंद्र जोशी, परितोष जोशी, सालम समिति के अध्यक्ष राजेंद्र रावत, राधा बिष्ट, लीला जोशी, निर्मल रावत, राजीव कर्नाटक भूपेंद्र भोज, सुनीता पांडे, सचिन आर्या, हेम तिवारी, महेंद्र बिष्ट, संजय वाणी, सुनील कठायत, वैभव पांडे, राजेंद्र बोरा समेत अनेक कांग्रेसी मौजूद रहे।

*समर्थकों के आगे झुका प्रशासन, तीन घंटे बाद किया रिहा

मल्ला महल को लेकर धरना देने पहुंचे पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी उपपा के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी व अन्य कार्यकर्ताओं को समर्थकों के दबाव के चलते पुलिस ने तीन घंटे बाद रिहा कर दिया। जिसके बाद प्रदर्शनकारियों ने बाजार में सभा की और प्रशासन की इस कार्रवाई की कड़ी निंदा भी की।

सभा को संबोधित करते हुए पीसी तिवारी ने कहा कि जिला प्रशासन लोकतंत्र की हत्या करने का प्रयास कर रहा है। प्रदर्शनकारी अपनी मांग को लेकर शांतिपूर्वक तरीके से अपना विरोध व्यक्त कर रहे थे। लेकिन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर जनता की आवाज को दबाने का काम किया है।

पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी ने भी प्रशासन की इस रवैए की कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा है कि इस तरह की कार्रवाई को किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सभा से पूर्व प्रदर्शनकारियों ने रीगल सिनेमा हॉल से रैली निकालकर अपना विरोध भी व्यक्त किया।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें