शंखनाद INDIA/ अवतार सिंह पंवार/चमोली

चमोली जनपद में आज भी यानी देश के आजादी के 7 दशक बीत जाने के बाद भी कई गांव सड़क सुविधाओं से वंचित है जहाँ से ग्रामीणों के जीवन संघर्ष की खबरे आती रहती है। बुधवार को गैरसैण ब्लाक के तेवा खरक गांव मै एक बुजुर्ग को अचानक तबियत खराब हो गई। जिसके बाद ग्रामीणों द्वारा डंडी कंडी के सहारे 7 किमी पैदल चलकर सड़क तक पहुंचाया।

हर रोज अखबार और टीवी के माध्यम से विकास के दावे करने वाले शासन और प्रशासन के लोगों के सामने गैरसैण ब्लॉक की तेवा खर्क गांव की यह तस्वीरें बहुत कुछ बया कर रही हैं। कुछ समय पहले गैरसैण ब्लॉक के तेवा खर्क गांव के लोग सरकार की अनदेखी के कारण स्वयं ही अपने गांव को जोड़ने के लिए सड़क मार्ग का निर्माण कर रहे थे। परन्तु अभी भी मुख्य सड़क से गांव की दूरी लगभग 7 किलोमीटर है ।

ग्रामीणों का कहना है कि कई बार शासन प्रशासन को पत्राचार के माध्यम से क्षेत्र के विकट परिस्थितियों भरे पैदल रास्तों के बारे में अवगत करवाते हुए सड़क की मांग की गयी, लेकिन आजतक उनकी एक नहीं सुनी गई । जिसका खामियाजा आये दिन तेवाखर्क के लोगों को इस तरह से भुगतना पड़ता है।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें