शंखनाद INDIA/शिवेंद्र गोस्वामी/ अल्मोड़ा-: प्रदेश सरकार ने निकायों में वार्डों के परिसीमन में जनभावनाओं की अनदेखी की है। जिस कारण आज नए वार्डों में तमाम तरह की समस्याएं सामने आ रही हैं। सरकार को चाहिए था कि संबंधित वार्डों के लोगों को विश्वास में लिया जाए और उसके बाद वार्डों का निर्माण किया जाए।

नगर के दुगालखोला मोहल्ले में आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए यह बात पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने कही। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा कुछ क्षेत्रों को पालिका में शामिल किया गया जबकि कई क्षेत्रों को छोड़ दिया गया। तिवारी ने कहा कि वर्तमान सरकार निकायों के साथ सौतेला व्यवहार कर उन्हें बजट आवंटित नहीं कर रही है। जिससे विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं। पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी ने अपने संबोधन में कहा कि सरकार से कई बार बजट की मांग की गई।

लेकिन सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही है। कार्यक्रम के दौरान स्थानीय लोगों ने वार्ड में स्थित मां नंदा सुनंदा विसर्जन स्थल को भव्यता प्रदान करने, करबला से टम्टा मोहल्ले तक मार्ग निर्माण किए जाने, वार्ड का सीमांकन, वन पंचायत का निर्धारण, नालों का निर्माण किए जाने, मंदिर परिसर में सार्वजनिक कक्ष का निर्माण किए जाने की मांग भी उठाई गई। जिस पर पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी ने शीघ्र कार्रवाई का आश्वासन दिया। कार्यक्रम का संचालन संजय दुर्गापाल एवं अध्यक्षता मोहम्मद सलीम ने की।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें