शंखनाद INDIA/ मुन्ना अंसारी/लालकुआँ :- बीते दिनो बिन्दुखत्ता से तीन कांग्रेसी नेताओं की गिरफ्तारी के बाद सोमवार के दिन लालकुआं कोतवाली का घेराव करने वाले कांग्रेसी नेताओं के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। यह मुकदमा 40-45 अज्ञात लोगों के खिलाफ किया गया है अब पुलिस जाँच करने के बाद इन लोगों को नामजद कर कार्यवाही करने जा रही है ।

कोतवाली लालकुआँ में तैनात उपनिरीक्षक सीमा आर्या की ओर से दर्ज मुकदमें में कहा गया है कि रविवार एवं सोमवार की रात पुलिस ने जब जन्मदिन पार्टी में एक युवक को पीटा तो पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने पूर्व यूसीडीएफ डायरेक्टर भगवान सिंह धामी व उनके पुत्र बिन्दुखत्ता युवा काँग्रेस अध्यक्ष राजा धामी और युवा काँग्रेस विधानसभा अध्यक्ष कमल दानू को गिरफ्तार कर कोतवाली ले आयी थी।

सोमवार की सुबह तकरीबन 40-45 लोग कोतवाली आ धमके और कोतवाली के बाहर धरने पर बैठ गये साथ ही न्याय करने की माँग करने लगे जिसमे से कुछ लोग कोतवाली परिसर तथा कार्यालय में भी जा पहुंचे और पुलिस से बेवजह उलझने लगे पुलिस का आरोप है कि लोगो ने जबरन गिरफ्तार तीनो कांग्रेसी नेताओं को पुलिस से छुड़ाने का प्रयास भी किया।

सुबह से दोपहर तक चले घटनाक्रम में इन लोगों ने कोतवाली में हंगामा किया जिससे सरकारी कार्य में बाधा आयी और अपनी अपनी परेशानियां लेकर कोतवाली पहुंचे फरियादीयो को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। पुलिस ने पूरे हंगामे की वीडियो भी बनायी है जिससे आराजकता कर रहे लोगो को चिन्हित कर कार्यवाही की जा सके । तहरीर के मुताबिक जब हंगामा कर रहे लोग नही रुके तो अधिकारियों को दूसरे थानों से अतिरिक्त पुलिस बुलानी पड़ी ।

तहरीर के आधार पर कोतवाली पुलिस ने धारा 147, 341, 269, 270, 186, 34 अधिनियम और धारा 7 सीआरएलए एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। तहरीर में कहा गया है कि पुलिस ने घटना की वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी की गई है ताकि मामले में शामिल लोगों की शिनाख्त कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सके । मामले की जांच उपनिरीक्षक इंद्रजीत सिंह को सौंपी गई है ।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें