शंखनाद INDIA/ 
कोरोना काल के कारण नगर निगम को इस वित्तीय वर्ष में हाउस टैक्स की वसूली के लिए खासी मशक्कत करनी पड़ रही है। नगर निगम ने शहरवाासियों को बड़ी राहत देते हुए हाउस टैक्स में दी जा रही 20 फीसद छूट की अंतिम समय-सीमा पंाच दिन बढा़ दी है। पहले यह सीमा 15 फरवरी तक थी, मगर सोमवार को महापौर सुनील उनियाल गामा ने इसे 20 फरवरी तक बढ़ा दिया है। ऐसे में शहरवासियों को यह अंतिम मौका दिया गया है कि वे छूट का लाभ लेकर टैक्स जमा करा दें।
इस वित्तीय वर्ष में निगम ने हाउस टैक्स में 50 करोड़ रुपये का लक्ष्य रखा हुआ है, जबकि अभी तक महज 23 करोड़ रुपये टैक्स ही जमा हुआ है । मौजूदा समय में शहरी क्षेत्र का दायरा भी बढ़़कर 60 से 100 वार्ड हो चुका है। सरकार ने दो साल पहले शहर से सटे 72 ग्राम को शहरी सीमा मे मिलाने का कार्य किया था। इसके बाद नए परिसीमन से 31 नए वार्ड बने, जबकि पुराने 60 वार्ड बढ़कर 69 वार्ड में सभी भवनों आवासीय व व्यावसायिक पर टैक्स लिया जा सकता है। करीब डेढ़ लाख भवनों पर टैक्स लगा हुआ है, लेकिन इस वित्तीय वर्ष में अब तक करीब 70 हजार भवनों से ही टैक्स वसुली हो पाई है । इससे निगम अधिकारी चिंतित है।
नगर निगम हर साल टैक्स वसुली के लिए सभी वार्डो में कैंप लगाया था, लेकिन इस बार कोरोना के कारण कैंप भी नहीं लग पाए। स्थितियां अब सामान्य की ओर बढंते देख महापौर ने नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय को निर्देश दिए है। कि टैक्स वसूली के लिए अधिक से अधिक कैंप लगाने के प्रयास किए जाएं । वहीं, छूट का अंतिम दिन मानकर चल रहे लोग बड़ी संख्या में सोमवार को नगर निगम पहुंचे और टैक्स जमा कराया। इससे निगम के टैक्स अनुभाग में पूरा दिन लाइन लगी रही ।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें