शंखनाद INDIA/ नई दल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भारत-बांग्लादेश के बीच मैत्री सेतू का उद्धाटन किया| इसके अलावा पीएम मोदी ने कई अन्य परियोजनाओं का उद्धाटन और शिलन्यास भी किया| मैत्री सेतू बनने के बाद अब त्रिपुरा से बांग्लादेश जाने में आसानी होगी| मैत्री सेतू भारत और बांग्लादेश के बीच बढ़ते द्वीपक्षीय संबंधो और मैत्रीपूर्ण संबंधों का प्रतीक है|  त्रिपुरा राज्य और बांग्लादेश में भारतीय सीमा के बीच बहने वाली फेनी नदी पर पुल ‘मैत्री सेतू’ बनाया गया है|

इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि अब त्रिपुरा का विकास और जोर पकड़ेगा| पीएम मोदी ने कहा कि 2017 में त्रिपुरा ने विकास का डबल इंजन लगाने का फैसला किया और आज इस डबल इंजन के फैसले के कारण जो परिणाम निकले वो आज आपके सामने हैं| वहीं विकास कार्यों का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बीते 6 साल में त्रिपुरा को केंद्र सरकार से मिलने वाली राशि में बड़ी वृद्धि की गई है| वर्ष 2009 से 2014 के बीच केंद्र सरकार से त्रिपुरा को केंद्रीय विकास परियोजनाओं के लिए 3500 करोड़ रूपए की मदद मिली थी, जबकि साल 2014 से 19 तक 12 हजार करोड़ रूपए से अधिक की मदद की गई है|

 

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें