शंखनाद INDIA/ नवीन सती के साथ भगवान महरा/कालाढूंगी -: नैनीताल के कोटाबाग ब्लॉक में पैराग्लाइडिंग एसोसिएसन पर्यटन विभाग से मदद की उम्मीदें लगाये हुए हैं ।हिमालय की तृतीय शिवालिक श्रेणियों में स्थित कोटाबाग अपने अनुपम प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण हो कर स्वच्छंद वातावरण के लिए विख्यात है।

यहां की पर्वत श्रृंखलाओं में शीत ऋतु में आप बर्फ का आनंद भी ले सकते हैं। बर्फ का आनंद लेते हुए आप यहां पर पैराग्लाइडिंग का लुत्फ भी ले सकते हैं यहां की पैराग्लाइडिंग एशिया की सबसे लंबी पैराग्लाइडिंग साइट है जोकि अभी तक पर्यटकों की पहुंच से दूर है। यहां पर पर्यटक पैराग्लाइडिंग के साथ ट्रैकिंग कैंपिंग का आनंद भी ले सकते हैं । साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कोटाबाग पैराग्लाइडिंग एंड एडवेंचर एसोसिएशन विगत वर्षों से कार्य कर रही है।कोटाबाग पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन द्वारा कोटाबाग में पैराग्लाइडिंग के ट्रेनिंग का कार्य भी किया जा रहा है ।

जिसमें उत्तराखंड एवं देश विदेश से सीखने के इच्छुक युवक एवं युवतियां ट्रेनिंग का हिस्सा बन सकते हैं ।
परन्तु पर्यटन विभाग से कई बार कोटाबाग पैराग्लाइडिंग एसोसिएसन मदद की मांग करते आ रहा हैं लेकिन पर्यटन को बढ़ावा देने के सरकार लाख दावे कर ले धरातल पर जिस तरह एशिया की लंबी साइट का इस प्रकार उपेक्षित रहना दुर्भाग्यपूर्ण है ।।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें