शंखनाद INDIA/ बागेश्वर-:  बागेश्वर जिले के भ्रमण पर पंहुचे राज्य स्तरीय बीस सूत्रीय कार्यक्रम एवं क्रियान्वयन समिति (कैबिनेट स्तर) के उपाध्यक्ष शेर सिंह गढ़िया ने आज विकास भवन सभागार में जिला टास्कफोर्स से सम्बंधित जनपदीय अधिकारियों के साथ बैठक कर विकास कार्यो की प्रगति की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान माननीय उपाध्यक्ष राज्य स्तरीय बीस सूत्रीय कार्यक्रम कार्यान्वयन समिति श्री गड़िया ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा बीस सूत्रीय कार्यक्रम के अंतर्गत संचालित हो रही विभिन्न विकास योजनाओं का लाभ समाज के प्रत्येक व्यक्ति तक पंहुचाना हमारा लक्ष्य है इस हेतु सभी अधिकारी जिम्मेदारी से कार्यो  का निर्वहन कर अंतिम छोर में खड़े व्यक्ति को विकास की मुख्य धारा से जोड़ें।

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा ग्राम्य विकास विभाग में संचालित विभिन्न योजनाएं जिसमें प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना, स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित अटल आयुष्मान योजना, जल जीवन मिशन, मनरेगा आदि संचालित हैं इन योजनाओं में तत्परता से कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम के अन्तर्गत अनेक ऐसी योजनायें संचालित हैं, जिसका लाभ अंतिम छोर के व्यक्ति को उपलब्ध कराकर हम आम गरीब व्यक्ति को विकास की मुख्य धारा से जोड़ते हुए उनका आर्थिक एवं सामाजिक विकास कर सकते हैं। इसके लिए सभी अधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए सरकार द्वारा संचालित विकास परक योजनाओं का क्रियान्वयन धरातल पर कार्य करते हुए उन्हें विकास योजनाओं का लाभ उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के तहत वर्चुअल माध्यम से भी समीक्षा की जा रही हैं। ग्रामीण स्तर पर प्रत्येक विकास खंड में बीस सूत्रीय कार्यक्रम अनुश्रवण समितियां बनार्इ गर्इ है। जिसमें सम्बन्धित उपजिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी तथा नामित सदस्य बीस सूत्रीय कार्यक्रमों का सत्यापन करेंगे। समीक्षा के दौरान श्री गड़िया ने कहा कि जिन जो विकास योजनायें धीमी गति से संचालित हैं या लंबित हैं उन योजनाओं का समिति के सदस्यों द्वारा परीक्षण कराते हुए उन योजनाओं को धरातली स्वरूप देने के लिए कार्य किया जायेगा।

बैठक में उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दियें कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम में जनपद का प्रदेश में चौथा तथा मंडल स्तर पर दूसरा स्थान है। उन्होंने इस संबंध में जिले को प्रथम स्थान पर लाने के लिए संबंधित अधिकारियों को लक्ष्य निर्धारित करते हुए धीमी प्रगति वाली योजनाओं में तत्परता से कार्य करने को कहा। बैठक में उन्होंने जिला टास्कफोर्स के लिए तैनात कियें गयें अधिकारियो को निर्देशित करते हुए कहा कि उन्होने द्वारा कियें जा रहें कार्यो के सत्यापन के संबंध में निर्देश दियें कि जो उन्हें लक्ष्य निर्धारित उन लक्ष्यों को सभी अधिकारी तत्परता के साथ लक्ष्य हासिल करते हुए संचालित योजनाओं का सत्यापित करना सुनिश्चित इसमें किसी प्रकार की शिथिलता न बरती जाय।

उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दियें कि जनपदवासियो को बेहतर स्वास्थ सुविधा उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें इसके लिए सामुदायिक स्वास्थ केंद्र काण्डा एवं कपकोट में आने वाले मरीजों को एक्सरे एवं अल्ट्रासाउंड की पेरशानी न हो इसके लिए चिकित्सको की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय।

उन्होंने मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दियें कि यह सरकार की महत्वाकांशी योजना हैं जिसके माध्यम से बेरोजगार युवाओं का अपना रोजगार शुरू करने के लिए बैंको से ऋण उपलब्ध कराया जाता हैं इसके लिए संबंधित अधिकारी एवं बैंकर्स आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए तत्परता के साथ पात्र व्यक्तियों का ऋण उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें इसमें किसी प्रकार की लापरवाही एवं शिथिलता न बरती जाय। उन्होने कृषको की आय को दोगुनी करने के लिए सभी अधिकारियों को आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए संचालित योजनाओं का लाभ उन्हें उपलब्ध करायें तथा योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कराते ताकि वे लोग इन योजनाओं का लाभ ले सकें एवं उनकी आय दोगुनी की जा सकें।

उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दियें कि जनपद में महिला उत्पीड़न मामलों को गंभीरता से लें तथा यदि किसी महिला पर किसी प्रकार से उत्पीडन होता है तो उनके विरूद्ध कडी से कडी कार्रवार्इ सुनिश्चित की जाय। इससे पूर्व बैठक में माननीय उपाध्यक्ष एवं अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए मुख्य विकास अधिकारी डी0डी0 पंत ने जिले में बीस सूत्रीय कार्यक्रम समेत अन्य विकास कायोर्ं की प्रगति की जानकारी दी गर्इ। मुख्य विकास अधिकारी ने अवगत कराया कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम में जिले में कुल 22 कार्यक्रमों में 14 विभाग ए श्रेणी में, 4 विभाग बी श्रेणी में, 05 सी में, 01 तथा 02 विभाग डी श्रेणी में है।

सभी विभागों को ए श्रेणी में लाए जाने हेतु संबंधित विभागों को शतप्रतिशत लक्ष्य की पूर्ति करते हुए अंतिम छोर के व्यक्ति को सरकार की मंशा के अनुरूप योजना का लाभ पहुचाते हुए विकास की मुख्य धारा से जोडना हैं। जिसके लिए सभी अधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करने के निर्देश दिए हैं, उन्होने मा0 उपाध्यक्ष बीस सूत्रीय कार्यक्रम को आश्वस्त किया कि उनके द्वारा जो भी दिशा निर्देश दियें गयें हैं उनका सभी विभागीय अधिकारियों से अनुपालन कराते हुए विकास योजनाओं को धरातल पर उतारते हुए तत्परता के साथ प्रत्यके क्षेत्र में कार्य किया जायेगा।

बैठक में विधायक कपकोट बलवंत सिंह भौर्याल, जिला उपाध्यक्ष बीस सूत्रीय कार्यक्रम देवकी नंदन जोशी, पूर्व अध्यक्ष जिला पंचायत दीपा आर्या, महेश खेतवाल, घनश्याम जोशी, सुन्दर लाल वर्मा, उपनिदेशक अर्थ एवं संख्या कुमांऊ मंडल नैनीताल राजेन्द्र तिवारी, जिला विकास अधिकारी के0एन0तिवारी, परियोजना निदेशक शिल्पी पंत, प्रभागीय वनाधिकारी बलवंत सिंह शाही, मुख्य कृषि अधिकारी वी0पी0मौर्या, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 उदय शंकर, मुख्य शिक्षा अधिकारी पदमेंद्र सकलानी, जिला उद्यान अधिकारी आर0के0सिंह, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0एन0एस0टोलिया, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी देवेन्द्र नाथ गोस्वाती, जिला पूर्ति अधिकारी अरूण कुमार वर्मा महाप्रबंधक उद्योग जीपी दुर्गापाल, खंड विकास अधिकारी आलोक भण्डारी सहित संबंधित अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें