शंखनाद/INDA/सी शेखर/भिकियासैंण -अल्मोड़ा|
अल्मोड़ा जनपद के दूरस्थ स्याल्दे विकास खण्ड के बरंगल गांव में मंगलवार रात को आदमखोर तेंदुए को शिकारी दल ने ढेर कर दिया है जिससे एक माह से आंतक का पर्याय बने तेंदुए के खौफ से लोगों को निजात मिल गई है वन विभाग के अधिकारी तेंदुए को पोस्टमार्टम के लिए अल्मोड़ा जिला मुख्यालय ले गए हैं।
उल्लेखनीय है कि तेंदुए ने बरंगल किमबगड़ निवासी शान्ति देवी को अपना निवाला बना डाला था। डोटियाल बाखल की अंजू देवी, कोठा बंरगल‌‌ गांव की कमला देवी पर हमला कर घायल कर दिया था साथ ही उप्राड़ी ग्राम पंचायत के संसखेत निवासी लक्ष्मण चन्द्र पुत्र किशन राम की दस बकरियों,जैखाल को गांव में दुधारू गाय को मार डाला इसके अलावा विकास खण्ड से सटे पौड़ी जिले की डुमडीकोट गांव की 26 वर्षीय तुलसी देवी पर भी हमला कर दिया। जिससे ग्रामीणों में खौफ था। वन विभाग ने जन दवाव के कारण तुरन्त घटना वाले जगहों पर तीन पिंजरे लगाकर पौड़ी से शिकारी जाॅय हुकिल तथा बिजनौर से शिकारी सैफी को 15 दिन से लगाया था लेकिन आदमखोर तेंदुआ पकड़ में नहीं आ रहा था जिसको वन विभाग ने गंभीरता से लिया और हिमाचल से शिकारी आशीष दास गुप्ता को बुला लिया गया जिससे लगातार आदमखोर को ट्रेस करने के लिए पूरी टीम लगी गई। आखिरकार मंगलवार रात पौने ग्यारह बजे के आसपास तेंदुए को मार गिराता गया। बुधवार सुबह वन विभाग की टीम पोस्टमार्टम के लिए अल्मोड़ा ले गई है।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें