शंखमाद INDIA/तमिलनाडु-: खबर तमिलनाडु के डिंडीगुल से है. जहा से बेहद ही खतरनाक और दर्दनाक खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि दो बच्चो की मौत के बाद 20दिन तक मां का शव घर में ही पड़ा रहा और बच्चे मां का इंतज़ार कर रहे थे कि भगवान उनकी मां की आत्मा वापस के देंगे ।

खबर के मुताबिक इंदिरा नाम कि एक महिला डिंडीगुल के पुलिस थाने में हैड कांस्टेबल के रूप में काम करती थी हैड कांस्टेबल को गुर्दों में तकलीफ थी जिसके बाद वह अपने पति से अलग हो गई और अकेले ही बच्चो को पालने लगी।पुलिस ने बताया कि महिला कई दिन से पुलिस स्टेशन नहीं आई जब विभाग ने जानकारी लेने के लिए इंदिरा के घर गए तो घर पर सिर्फ बच्चे थे और घर में बहुत तेज बदबू आ रही थी।

जब बच्चो से पूछा गया कि मां कहा है तो उन्होंने कहा कि मां सो रही है और उसको उठाना नहीं है नहीं तो भगवान हमारी मां को नुक़सान पहुंचा देंगे पूछताछ करने गई जब महिला कांस्टेबल को शक हुआ आर उसने विभाग को सूचित किया। पुलिस आई तो उन्हें जांच पड़ताल में पता चला इंदिरा की मौत हो चुकी है ।

पुलिस ने बताया कि महिला की मौत 20दिन पहले ही हो गई थी और उसके शव के पास पूजा का समान पड़ा हुआ था। पुलिस ने जब जांच की तो पता चला कि सुदर्शन पंडित के कहने पर महिला को अस्पताल नहीं ले जाया गया पंडित ने बच्चो और महिला की बहन से कहा कि शव अस्पताल मत ले जाओ नहीं तो भगवान इंदिरा की रक्षा नहीं करेंगे।20 दिन से सुदर्शन आत्मा वापस लाने का ढोंग रच रहा था पुलिस ने पंडित और महिला की बहन को हिरासत में लेके कार्यवाही शुरू कर दी है।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें