शंखनाद INDIA/ चौखुटिया-:  वन पंचायत प्रबंधन समिति ,वन कर्मियो की एक दिवसीय कार्यशाला कैंप परियोजना के तहत वन विश्राम गृह में हुई। कार्यशाला में वन नियमावली , सरपंचों, पंचों व प्रबंध समिति के अधिकार व कर्तव्य के बारे में जानकारी दी गई।
कार्यशाला की अध्यक्षता वन पंचायत सरपंच संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष सीपी शर्मा व संसाधन भोपाल सिंह भंडारी ने किया। कार्यशाला में सरपंचों की विभिन्न समस्याओं पर चर्चा के साथ ही वन नियमावली ,अधिकार व कर्तव्य की जानकारी दी गई। तथा ग्रीन इंडिया मिशन के संबंध में बताया गया। वक्ताओं ने कहा कि वनों की सुरक्षा व देखरेख करने की जिम्मेदारी सरपंच सहित ग्रामीणों के सहयोग व वन विभाग के साथ मिलकर की जानी चाहिए।

साथ ही वनो के विकास के लिए माइक्रो प्लान तैयार करने सहित वन विभाग द्वारा वर्किंग प्लान के तहत कार्य करने, वृक्षारोपण, जल संरक्षण के लिए टैंक व दिवाली कर्ण आदि प्लान बनाने की जानकारी सरपंचो को दी गई। इसके अलावा समय पर वन पंचायत की खुली बैठक कर का विभिन्न पंजिकाओ के उपयोग करने वन पंचायतों में सीमाकंन कर खसरा, हंकबंदी उपलब्ध कराने की बात भी की गई। सरपंचों ने भी इस अवसर पर अपनी विभिन्न समस्याएं उठाई।

पूर्व वन एडीओ लीलाधर मठपाल ने वन पंचायत व वनों की देखरेख सहित अनेक जानकारियां इस अवसर पर दी। बताया 1931 से वन पंचायतों का गठन हुआ है वर्तमान में प्रदेश में। 1279 पंचायतें कार्यरत हैं साथ ही 58 बिंदुओं में वन पंचायतें कार्य कर सकती हैं जिसमें राजस्व ,वन विभाग व प्रबंधन समिति का पूरा दायित्व होता है।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें