शंखनाद INDIA/अवतार सिंह पंवार /चमोली

 

चमोली नंदप्रयाग नगरपंचायत से विकास खण्ड घाट डेड लाइन सड़क चौड़ीकरण के लिए क्षेत्र के लोगों का आंदोलन लगातार जारी है आंदोलनकारी चरणबद्ध तरीके से सरकार के सामने अपनी मांग को रख रहे हैं थराली विधायक मुन्नी देवी साह के नेतृत्व में आंदोलनकारी मुख्यमंत्री से भी मुलाकात कर चुके हैं लेकिन मुलाकात सकारात्मक नहीं रहने के चलते आंदोलन जारी है।

कुछ दिन पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा अल्मोड़ा में प्रदेश की सभी ब्लाक मुख्यालयों को डेड लाइन से जोड़ने की बात कहने के बाद विकास खण्ड घाट के आंदोलनकारियों को एक उम्मीद जगी कि मुख्यमंत्री कि यह बात धरातल पर घाट ब्लॉक से ही जमीन पर उतरेगी और घाट ब्लॉक से डेड लाइन सड़क चौड़ीकरण का कार्य शुरू होगा, लेकिन 3 फरवरी को जिला मुख्यालय पर पहुंचे मुख्यमंत्री से आंदोलनकारियों ने मुलाकात की और अपने आंदोलन मांग मुख्यमंत्री के सामने रखी, आंदोलनकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्री की तरफ से किसी तरह का साफ-साफ जवाब नन्दप्रयाग घाट डेड लाइन सड़क को लेकर नहीं मिला।

वही आंदोलनकारियों ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक धरातल पर सरकार द्वारा सड़क चौड़ीकरण का काम शुरू नहीं किया जाता है तब तक आंदोलन निरन्तर जारी रहेगा।

मार्च में ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में होने वाले बजट सत्र के दौरान भी घाट क्षेत्र के हजारों की संख्या में लोग विधानसभा कूच करेंगे वही इस आंदोलन के समर्थन में उतरी क्षेत्रीय प्रधान संगठन ने भी सरकार के सामने चेतावनी रखी है कि वह लोग चरणबद्ध तरीके से पहले चरण में ग्रामीण क्षेत्र में होने वाले विकास कार्यों पर कार्य बहिष्कार करेंगे उसके बाद अगर सरकार नहीं मानती है तो पूरे घाट विकासखंड के प्रधान संगठन सामूहिक इस्तीफा देने को भी मजबूर हो सकते हैं ऐसे में अब पूरे विकासखंड घाट क्षेत्र के लोगों का कहना है कि वे मुख्यमंत्री के आभारी हैं कि उन्होंने उनके आंदोलन का संज्ञान लेते हुए प्रदेश के सभी ब्लॉक मुख्यालय में रेड लाइन सड़क चौड़ीकरण की बात कही लेकिन उन्हें तब तक इस बात पर विश्वास नहीं हो जाता जब तक नन्दप्रयाग घाट सड़क डेट लाइन को लेकर शासनादेश या फिर धरातल पर कोई कार्य अमल में नहीं लाया जाता।

अब यह तो देखनी वाली बात होगी कि कब सरकार धरातल पर कार्य प्रारंभ करती और कब इस जनांदोलन को विकास आंदोलन में बदलने पर खरी उतर पाती है।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें