शंखनाद INDIA/ चंपावत

उत्तराखंड के चंपावत में आज से विश्व प्रसिद्ध  मां पूर्णागिरि मेले की शुरूवात हो जाएगी| आज दोपहर एक बजे प्रदेश के कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत मेले का उद्घाटन करेंगे। बता दें कि मां पूर्णागिरि धाम में हर साल होली के अगले दिन से तीन महीने के लिए पूर्मागिरी मेले का आयोजन किया जाता है जिसमें हजारों की संख्या में श्रद्धालु मां पूर्णागिरी के दर्शन करने के लिए आते हैं| हालांकि इस बार कोरोना महामारी को देखते हुए प्रशासन ने मेले की अवधि सिर्फ 30 दिन तय की है, जिससे कोरोना संक्रमण से बचा जा सके| इसके अलावा मेले में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कोरोना महामारी को लेकर कई गाइडलाइन्स भी जारी की गई है जिसका पालन हर एक श्रद्धालु को करना होगा|

आज से शुरू हो रहे मां पूर्णागिरि मेले का आयोजन 30 अप्रैल तक किया जाएगा| इस बार यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कुंभ मेले की तर्ज पर एसओपी पहले ही तैयार की जा चुकी है। नए नियमों के मुताबिक अब यहां आने वाले श्रद्धालुओं को कोविड की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। एक माह तक चलने वाले मेले में केंद्र के निर्देश के मुताबिक श्रद्धालुओं को अपनी 72 घंटे पहले की आरटीपीसीआर जांच की कोविड निगेटिव रिपोर्ट दिखानी जरूरी होगी। कोविड टीका लगा चुके लोगों को इसका प्रमाणपत्र साथ लाना होगा। आरटीपीसीआर जांच में कोविड पॉजिटिव पाए जाने वाले दूसरे जिलों के तीर्थयात्रियों को वापस भेजा जाएगा। जबकि चम्पावत जिले के पॉजिटिव आने वाले श्रद्धालुओं को 14 दिन के होम आइसोलेशन या क्वारंटाइन किया जाएगा।

मेले की सभी श्रद्धालुओँ की सुविधा को देखते हुए प्रशासन की तरफ से सभी व्यवस्थाओं को पूरा किया जा चुका है। ककरालीगेट से मुख्य मंदिर तक पथ प्रकाश, अस्थायी शौचालय, यात्रि विश्राम शेड आदि सभी व्यवस्थाएं पूरी कर ली गई हैं। इसके अलावा कोरोना को लेकर भी प्रशासन की तरफ से बचाव के पूरे इंतजाम किए गए हैं| मेले में जगह-जगह श्रद्धालुओं की थर्मल स्क्रीनिंग से जांच की व्यवस्था की गई है। मेला क्षेत्र में दो जगह स्वास्थ्य कैंप लगेंगे। इसमें दवाएं और जरूरी स्वास्थ्य परीक्षण की पुख्ता व्यवस्था होगी। स्वास्थ्य विभाग के अलावा ठूलीगाड़ और भैरव मंदिर में तीर्थयात्रियों के लिए एंबुलेंस भी मौजूद रहेगी।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें