शंखनाद/INDIA/बागेश्वर

जनपद में किसानों की आय दोगुनी करने के उद्देश्य से जिलाधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में जिला कार्यालय सभागार में ऋण वित्तमान की बैठक आयोजित की गयी। जिसमें कृषि, उद्यान, मत्स्य, पशुपालन तथा भेषज आदि विभागों द्वारा विभिन्न फसलों के लिए दियें जाने वाले ऋण निर्धारण के संबंध में जिलाधिकारी को अवगत कराया। जिलाधिकारी ने बैठक में संबंधित अधिकारियों को निर्देश दियें कि किसानों की आय बढाने के लिए सभी अधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करें तथा उन्हें गुणवत्तापरक बीज उपलब्ध करायें जाय इसके साथ ही फसलों की सुरक्षा के लिए खाद तथा दवा आदि का भी विशेष ध्यान रखा जाय। बैठक में जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दियें वर्ष 2021-22 के लिए विभागों द्वारा फसलों के लिए जो ऋण दर निर्धारित की गयी हैं तथा उसमें जो फसलें शामिल नहीं की गयी हैं, उन फसलों को भी इस सूची में शामिल किया जाय, जिसमें सेब, आम, लीची, पपीता, कीवी, झगोरा सहित अन्य जो फसलें जो शामिल की जा सकती हैं उन्हें भी शामिल करने के निर्देश दियें। जिलाधिकारी ने भेषज तथा मत्स्य विभाग को निर्देश दियें कि उनके द्वारा जो दरें निर्धारित की गयी हैं उनका पुन: निर्धारण करते हुए प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) द्वारा प्रकाशित संभाव्यता युक्त ऋण योजना (पी0एल0पी0) 2021-22 पुस्तिका का विमोचन भी किया गया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डी0डी0पंत, मुख्य कृषि अधिकारी वी0पी0मौर्या, जिला उद्यान अधिकारी आर0के0ंिसह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 उदय शंकर, जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड गिरीश चन्द्र पंत, निदेशक आरसेटी सहित संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहें।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें