शंखनाद INDIA/नई दिल्ली
कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने नागपुर में लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है। महाराष्ट्र के मंत्री नितिन राउत की अध्यक्षता में हुई बैठक में लॉकडाउन का निर्णय लिया गया। यह लॉकडाउन आगामी 15 मार्च से लेकर 21 मार्च तक लागू रहेगा। नागपुर शहर में बीते 24 घंटों में 1860 नए कोरोना मरीज सामने आए हैं जबकि 8 लोगों की मौत हुई है।  नागपुर के अलावा ग्रामीण इलाकों में भी मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, कोरोना के मरीज नियमों को ताक पर रखकर घर से बाहर घूमते हुए नजर आ रहे हैं। जिसकी वजह से यह लॉकडाउन लगाना पड़ा।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को कहा था, कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए राज्य के कुछ हिस्सों में सख्त लॉकडाउन लागू किए जाएंगे। आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रहेंगी। शराब ऑनलाइन बेची जाएगी। नागपुर जिला प्रशासन द्वारा जारी आदेश के अनुसार, केवल आवश्यक सेवाएं जैसे कि सब्जी, फल  और दूध की दुकानें खुली रहेंगी । लॉकडाउन के दौरान निजी कार्यालय बंद रहेंगे, जबकि सरकारी कार्यालय 25 प्रतिशत क्षमता पर काम करेंगे।
नागपुर के पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार ने बताया, कि अनावश्यक ट्रैवल्स को रोकने के लिए अधिकारी ट्रैफिक जांच करेंगे। किराने के सामान और फार्मेसियों के अलावा अधिकांश कार्यालय और दुकानें बंद रहें।


Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें