शंखनाद इंडिया / आशा बृजेश तिवारी / अल्मोड़ा-:  सरकारी अस्पतालों की दुर्दशा के बावजूद वहां इलाज महंगा करना बिल्कुल उचित नहीं है। एक तरफ अस्पतालों में रोगियों को बेहतर सुविधाएं नसीब नहीं हैं। ऊपर से यह निर्णय लेकर सरकार आम आदमी पर और अधिक दबाव बनाने की साजिश कर रही है। जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

यह बात उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी की बैठक में केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी ने कही। उन्होंने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाएं लंबे समय से बदहाल हैं। जिन्हें सुधारने की मांग जनता सरकार से करती आई है। लेकिन इस मांग पर कार्रवाई करने के बजाय प्रदेश सरकार अस्पतालों में इलाज महंगा कर गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की भावनाओं के खिलवाड़ करने का काम कर रही है। तिवारी ने कहा कि प्रदेश सरकार लगातार जनभावनाओं के विपरीत निर्णय ले रही है।

चौखुटिया में हवाई पट्टी के नाम पर वहां के लोगों की उपजाऊ जमीन को बर्बाद करने व चौबटिया में करीब नब्बे साल पुराने उद्यान निदेशालय को देहरादून शिफ्ट करने के निर्णय का जनता लगातार विरोध कर रही है। लेकिन सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को अपने इन निर्णयों को वापस लेना होगा। तिवारी ने कहा कि अगर सरकार तानाशाही पूर्ण रवैया अपनाती रही तो क्षेत्रीय जनता के सहयोग से एक बड़े जनसंघर्ष की रणनीति पर विचार किया जाएगा।
बैठक में आनंदी वर्मा, नारायण राम, वंदना कोहली, हीरा आर्या, राजू गिरि, धीरेंद्र पंत, पूरन मेहरा समेत अनेक कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें