शंखनादINDIA /                                                                                                                                                                                   जीएसटी मामले मे जरा भी हेराफेरी अब बर्दाश्त नहीं की जा रही है। पहली जनवरी से अब तक सैकड़ों कारोबारियों का जीएसटी पंजीकरण निंलबित किया जा चुका है। जीएसटी निंलबित की वजह से इन कारोबारियों का रिफंड रूकने के साथ-साथ बाजार में उनकी छवि को भी धक्का लगा है। कारोबारियों का कहना है कि मामूली गलती पर पंजीकरण निलंबित होने से कारोबार में नुकसान हो रहा है। व्यापारियों व ट्रांसपोर्टर्स ने इसके विरोध में 26 फरवरी को भारत व्यापार बंद का एलान किया है।

जीएसटी अधिकारियों ने बताया कि उन कारोबारियों के पंजीयन निलंबित हो रहे है, जिनके पते वास्तविक जांच में सही नहीं पाए जा रहे है या फिर उन पर गलत रिटर्न भरने का मामला बनता है। जीएसटी एक्सपर्ट एवं सीए राजिंदर अरोड़ा ने बताया की छोटे शहरों मे जीएसटी के कई जटिल प्रविधानो को कारोबारी समझ नहीं पाते है और गलती कर बैठते हैं। इससे उनका पंजीकरण निलंबित हो रहा है।

फोटो साभार गूगल

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें