शंखनाद/INDIA/पंकज डसीला/बागेश्वर

जनपद राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास तथा शिक्षा विभाग के संयुक्त तत्वाधान में मुख्य शिक्षा अधिकारी कार्यालय सभागार में कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि जिलाधिकारी विनीत कुमार ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। कार्यक्रम में उपस्थित बालिकाओं, महिलाओं एवं गणमान्य व्यक्तियों को राष्ट्रीय बालिका दिवस की शुभकामनायें देते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि बेटी एवं बेटे में कोर्इ फर्क नहीं है आज बेटियॉ अपनी मेहनत एवं परिश्रम से कर्इ उच्च पदों एवं सभी क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा से ऊंचार्इयों को छूते हुए अपने माता-पिता, गॉव एवं प्रदेश का नाम रोशन कर रही है। उन्होंने कहा कि समाज में बेटियों के प्रति जो गलत अवधारणा व सोच है इसे बदलने की आवश्यकता है, इस क्षेत्र में बहुत हद तक बदलाव आ चुका है। जैसे मॉ-बाप अपनी बेटियों को अच्छी शिक्षा दीक्षा एवं उचित मार्गदर्शन दे रहे है, हमें ऐसे माता-पिता से प्रेरणा लेने की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य लोगों को जागरूक करना है। उन्होने कहा कि वर्ष 2008 से राष्ट्रीय बालिका दिवस लगातार मनाया जा रहा हैं जिसमें बालिकाओं के अधिकारों एवं उनसे संबंधित संचालित योजनाओं की जानकारी उपलब्ध कराते हुए जागरूक किया जा रहा है। उन्होने कहा कि वर्तमान समय में महिलाओं को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होना जरूरी हैं, तथा समाज फैली कुरीतियों को समाप्त करने व परिवर्तन लाने के लिए खुद को भी जिम्मेदारी लेनी होगी। उन्होने बालिकाओं को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होने जीवन मे जो लक्ष्य निर्धारित किया है, वह लक्ष्य बडा होना चाहिए तथा उसे प्राप्त करने के लिए कडी मेहनत एवं लगन से लक्ष्य पर फोकस करते हुए उसे आसानी से हासिल किया जा सकता है। इस अवसर जिलाधिकारी द्वारा बोर्ड परिक्षाओं में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाली बालिकाओं तथा विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 50 बालिकाओं एवं महिलाओं को प्रशस्ति पत्र एवं 1,500 रूपयें की धनराशि देकर सम्मानित किया गया।

जिसमें हिमानी बिष्ट, रिया धामी, दिव्या चौहान, मनीषा रावत विवेकानंद इंटर कॉलेज मंडलसेरा, मीनाक्षी पांडे, सलोनी परिहार सैनिक हार्इस्कूल बागेश्वर, र्इशा धामी आनन्दी एकेडमी बागेश्वर, मोहनी कोरंगा, रजनी जोशी, खुशबू थापा आदि शामिल हैं। इस अवसर जिलाधिकारी ने कार्यक्रम में अपनी सुन्दर प्रस्तुतियां प्रस्तुत करने वाली बालिकाओ को 11,500 रूपयें की धनराशि देकर पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम के दौरान मुख्य विकास अधिकारी डी0डी0पंत ने राष्ट्रीय बालिका दिवस की शुभकामानायें देते हुए कहा कि यह दिवस बालिकाओं के लिए जागरूकता का दिवस हैं जिसके लिए विभाग द्वारा महिलाओं को जागरूक करने के लिए कर्इ कार्यक्रम आयोजित कियें जा रहें है। उन्होने कहा कि आज भी समाज में कर्इ असमानतायें हैं जिसे दूर करने की जरूरत है। उन्होने कहा कि महिलायें आज कर्इ क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य कर रही हैं, फिर भी महिलाओं को अपने अधिकारों की जानकारी होनी जरूरी है। उन्होने कहा कि समाज में जो भी असमानतायें हैं, उनका विरोध करना हैं जिसके लिए पूरी जानकारी का होना नितांत आवश्यक है।कार्यक्रम में परिवहन कर अधिकारी ने हरीश रावल ने उपस्थित छात्राओं को सडक सुरक्षा नियमों के बारे में जानकरी दी तथा जिलाधिकारी ने कार्यक्रम में उपस्थित लोगो द्वारा सडक सुरक्षा नियमों के संबंध में शपथ दिलायी गयी।

इस अवसर पर राजकीय इंटर कॉलेज मंडलसेरा एवं राजकीय इंटर कॉलेज की बालिकाओं द्वारा सरस्वती वंदना एवं स्वागत गीत तथा र्इशा धामी तथा नेहा शाही ने एकल गीतों की प्रस्तुत दी। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी के0एन0तिवारी, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी पदमेन्द्र सकलानी, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास राजेन्द्र बिष्ट, जिला पूर्ति अधिकारी अरूण कुमार वर्मा, अधि0अधि0 नगर पालिका बागेश्वर राजदेव जायसी, खंड शिक्षा अधिकारी कपकोट रमेश चन्द्र मौर्या, गरूड उमेश सिह रावत, प्रधानाचार्य प्रमोद तिवारी, अवद्येश गिरी सहित छात्र-छात्रायें, शिक्षक एवं महिलायें व अभिभावक तथा बाल विकास विभाग के कर्मचारी उपस्थित रहें। कार्यक्रम का संचालन प्रवक्ता दीप जोशी द्वारा किया गया।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें