शंखनाद INDIA/ देहरादून

देवभूमि उत्तराखंड में जल्द ही चारधाम यात्रा की शुरूवात होने जा रही है| चारधाम यात्रा के लिए सभी व्यवस्थाओँ को समय से पूरा करने के निर्देश भी जारी किये जा चुके हैं| 17 मई को सुबह 5 बजे बाबा केदारनाथ के कपाट श्रद्दालुओं के दर्शन के लिए खोल दिए जाएंगे| चारधाम यात्रा में शामिल होने वाले यात्रियों को यात्रा के दौरान किसी तरह की कोई परेशानी न हो  इसके लिए सरकार द्वारा निर्देश जारी किए जा चुके हैं| वहीं इस बार चारधाम यात्रा में आने वाले यात्रियों के लिए फोटोमैट्रिक पंजीकरण की व्यवस्था भी की गई  है| यानि जो भी यात्री इस बार यात्रा में शामिल होगा पर्यटन विभाग के पास उसकी फोटो के साथ पूरा रिकॉर्ड जमा होगा| ऐसा पहली बार हो रहा है जब चारधाम यात्रा में शामिल होने वाले सभी यात्रियों का फोटोमैट्रिक पंजीकरण कराया जाएगा| बता दें कि यह फोटोमैट्रिक पंजीकरण इसलिए कराया जा रहा है जिससे किसी भी आपातकालीन स्थिति में यात्रियों की पहचान आसानी से की जा सके| पर्यटन विभाग ने पहले से ही फोटोमैट्रिक पंजीकरण की तैयारियां शुरू कर दी है|

बता दें कि चारधआ यात्रा की शुरूवात मई से होने जा रही है|  17 मई को सुबह 5 बजे बाबा केदारनाथ के कपाट भक्तों के दर्शन के लिए खोल दिए जाएंगे| 14 मई को बाबा केदार की पंचमुखी चल विग्रह उत्सव डोली अपने शीतकालीन गद्दिस्थल ओम्कारेश्वर मंदिर ऊखीमठ से केदारनाथ के लिए प्रस्थान करेगी| पहले दिन बाबा की डोली फाटा में रात्रि विश्राम करेगी| इसके बाद 15 मई को बाबा की डोली दुतिया में और फिर रात्रि प्रवास गौरीकुंड में करेगी| 16 मई को बाबा केदार की डोली केदारनाथ पहुंचेगी और 17 मई  सुबह 5 बजे केदारनाथ के कपाट खोल दिए जाएंगे| इसके बाद 18 मई को बद्रीनाथ के कपाट खुलेंगे| और अक्षय तृतीय वाले दिन गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट खोले जाएंगे|

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें