शंखनादINDIA /राकेश सती/ नारायण बगड़/चमोली गढ़वाल

 उत्तराखंड में विधानसभा चुनावों का समय नजदीक आते ही कांग्रेस, भाजपा के साथ ही उत्तराखंड कांति दल ने भी अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। इसके तहत ब्लॉक सभागार मे आयोजित एक बैठक में वक्ताओं ने कहा कि वास्तव में अगर उत्तराखंड राज्य का चहुंमुखी विकास करना हैं, तो क्षेत्रीय पार्टी को मजबूत बनाना होगा वहीं उनके द्वारा पार्टी को मजबूत बनाने के लिए चर्चा करते हुए गांव स्तर पर संगठन को मजबूत किए जाने पर बल दिया गया।

यहां विकासखंड के सभागार में यूकेडी के पूर्व केंद्रीय उपाध्यक्ष भूपाल सिंह गुसाईं की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में कहा गया कि वृहद स्तर पर गांव.गांवो में सदस्यता अभियान चला कर पार्टी को मजबूत बनाना होगा। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि वास्तव में अगर उत्तराखंड राज्य का चहुंमुखी विकास करना हैं, तो क्षेत्रीय पार्टी को मजबूत बनाना होगा। वक्ताओं ने कांग्रेस, भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि दोनों ही दल राष्ट्रवाद की बात कह कर लगातार राज्य के हितों के साथ कुठाराघात करते आ रही हैं। जिससे राज्य का विकास अवरूद्ध हो गया हैं। दोनों ही पार्टियां यहां पर केवल और केवल सत्ता सुख भोगने के प्रयासों में जुटे हुए हैं। कहा कि जहां भाजपा पूंजीवादी लोगों की पार्टी बन कर रह गई हैं।

     वही कांग्रेस एक परिवार से आज भी बहार नही निकल पा रही हैं। कहा कि राज्य बनने के 20 वर्षों बाद भी राज्य की स्थाई राजधानी गैरसैण में बनाया जाना राज्य के लिए शहीद हुए राज्य आंदोलनकारी का खुला अपमान है। इसके अलावा राज्य में लगातार बढ़ती बेरोजगारी, जल, जंगल, जमीन का अवैज्ञानिक विदोहन, राज्य में लगातार तमाम तरह के माफियों की बढ़ती गतिविधियों के चलते राज्य में असुरक्षा का माहौल बनता जा रहा हैं। वक्ताओं ने राष्ट्रीय दलों की राज्य विरोधी नीतियों एवं यूकेडी की राज्य हित के लिए किए जा सकने वाले कार्यों का प्रचार.प्रसार गांव.गावों में करने की आवश्यकता पर बल दिया गया।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें