शंखनाद INDIA/शिवांश कुंवर/नैनबाग-: शिक्षा एक महत्वपूर्ण उपकरण है, जो हर किसी के जीवन में बहुत उपयोगी है। शिक्षा वह है जो हमें पृथ्वी पर अन्य जीवित प्राणियों से अलग करती है। यह मनुष्य को पृथ्वी का सबसे चतुर प्राणी बनाती है। यह मनुष्यों को सशक्त बनाती है और उन्हें जीवन की चुनौतियों का कुशलता से सामना करने के लिए तैयार करती है।

पिछले साल ही उत्तरकाशी से ट्रांसफर होकर इंटर कॉलेज का गरखेत में आएआशीष डंगवाल ने   कोविड-19 में स्कूल के बच्चों से दीवारों पर 3D पेंटिंग मोटिवेशनल थॉट्स स्टोरी आदि डिजाइन बनाकर बच्चों के अंदर फैशन डिजाइनिंग का शौक भी पैदा किया है। जो कि बच्चों के सपनों को एक नया मोड़ देंगे।

उनका कहना है कि यह मेरी जॉब है काम है और इसी बात का तो वेतन मिलता है। स्कूल के कुछ बच्चों की मदद से पिछले 2 महीनों से स्कूल की छुट्टी के बाद और रविवार के दिनों में थोड़ा-थोड़ा करके 3D पेंटिंग का कार्य पूर्ण किया ताकि स्कूल में पॉजिटिव वाइब्स आ सके और स्कूल में एक मोटिवेशनल माहौल बन सके।शिक्षा के प्रति और बच्चों के प्रति जो आशीष डंगवाल का समर्पण है अगर ऐसे ही सभी शिक्षकों में आ जाए तो शिक्षा को एक मोड़ अवश्य मिलेगा।

Share and Enjoy !

Shares
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    × हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें